नए आयाम की ओर अग्रसर हुई नवनीत सिकेरा की वुमेन पावर हेल्पलाइन

नए आयाम की ओर अग्रसर हुई नवनीत सिकेरा की वुमेन पावर हेल्पलाइन

112

वुमेन पावर लाइनउत्तर प्रदेश धीरे-धीरे अब उत्तम प्रदेश बनने लगा है चाहे कानून व्यवस्था को लेकर हो या फिर विकास को लेकर हो। यूपी में महिलाओं के लिए 24 घण्टे सेवा देने वाली वुमेन पावर हेल्पलाइन(Women Power Helpline) दिन प्रतिदिन नए आयाम को छू रही है। छूए भी क्यों न क्योंकि इसका नेतृत्व कोई और नहीं बल्कि प्रदेश ही नहीं देश के सफल ऑफिसरों में से एक नवनीत सिकेरा कर रहे हैं। वुमेन पावर हेल्पलाइन का सराहनीय काम सामने आया है।

महिलाओं के लिए कर रही है सराहनीय काम

-वुमेन पावर हेल्पलाइन महिलाओं के लिए बहुत ही सराहनीय काम कर रही है।
-संस्था में 11 अगस्त से 17 अगस्त तक तकरीबन 4,071 मामले दर्ज हुए थे।
-इनमें से 3,058 मामलो में महिलाओं की मदद हो चुकी है।
-The Police News की रिपोर्ट के मुताबिक महिलाएं बेहद खुश हैं।

1090 ने देश में कमाया नाम, इसके पीछे इनका था दिमाग

वुमेन पावर लाइनवूमेन पावर हेल्पलाइन नंबर 1090 की ताकत

-एक राज्य,एक नंबर 1090 कोई भी पीड़ित महिला या उसकी महिला रिश्तेदार
-अपनी शिकायत इस नंबर पर नि:शुल्क दर्ज करवा सकती है।
-शिकायत करने वाली महिला की पहचान पूरी तरह गोपनीय रखी जाती है।
-पीड़िता को किसी भी हालत में पुलिस थाने या किसी आफिस में नहीं बुलाया जाता है।
-हेल्पलाइन में हर हाल में महिला पुलिस अधिकारी ही पीड़िता की शिकायत दर्ज करती है।
-महिला पुलिस कर्मी अपने वरिष्ठ पुरूष पुलिस कर्मियों को पीड़ित की केवल उतनी ही जानकारी या सूचना उपलब्ध करवाती है
-जो विवेचना में सहायक हो सके। कॉल सेंटर दर्ज शिकायत पर तब तक काम करता रहेगा जब तक उस पर पूरी कार्रवाई नहीं हो जाती।

पढ़िए 1090 के फाउंडर ऑफिसर की कहानी

वुमेन पावर लाइन2012 में हुई थी स्थापना

-उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वीमेन पॉवर लाइन 1090 की स्थापना कराई गयी है।
-15 नवम्बर 2012 से 1090 की कार्यप्रणाली की शुरूआत हुई।
-तब से लेकर यह अब तक निरन्तर महिलाओँ के हित में कार्य कर रही है।
-अब तक लाखों की संख्या में केस का हल निकला है।
-महिला सशक्तीकरण की दिशा में वूमेन पावर लाइन ने अपनी एक अलग पहचान बनायी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सम्मान की गुहार: कांस्टेबल लोकेश ने सोशल मीडिया पर शेयर की अपनी पीड़ा

देश का हर पुलिस जवान अपनी कडी मेहनत