जानिएँ क्या है धारा 370, समझिए 10 प्वाइंट्स में

जानिएँ क्या है धारा 370, समझिए 10 प्वाइंट्स में

88

भारत को आज़ादी मिलने के बाद से लेकर अब तक जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाली धारा 370 हमेशा से विवादों का कारण रही है. इस धारा को लेकर भारतीय राजनीति में उठा पटक होती रहती है. कई राजनीतिक दल इसे जम्मू-कश्मीर में अलगाववाद के लिये जिम्मेदार मानते हैं. वक्त बेवक्त इस धारा को हटाने की मांग उठती रहती है.

क्या है धारा 370                                                                                                               धारा 370 भारतीय संविधान का एक विशेष अनुच्छेद यानी धारा है. जो जम्मू-कश्मीर राज्य को भारत में अन्य राज्यों के मुकाबले विशेष अधिकार या विशेष दर्ज़ा देती है. भारतीय संविधान में अस्थायी, संक्रमणकालीन और विशेष उपबन्ध सम्बन्धी भाग 21 का अनुच्छेद 370 जवाहरलाल नेहरू के विशेष हस्तक्षेप से तैयार किया गया था.

 जानिएं 10 प्वाइंट्स में-

1- जम्मू-कश्मीर का राष्ट्रध्ज भारत के राष्ट्रध्वज से अलग होता है।

2- राज्य जम्मू कश्मीर के नागरिको के पास दोहरी नागरिकता होती है।

3- आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर की कोई महिला यदि भारत के किसी अन्य राज्य के व्यक्ति से विवाह कर लें तो उस महिला की जम्मू कश्मीर की नागरिकता खत्म हो जाती है।

4- यदि पाकिस्तान के किसी व्यक्ति से जम्मू कश्मीर की महिला से विवाह होता है तो व्यक्ती को जम्मू कश्मीर की नागरिकता मिल जाती है।

5- जम्मू कश्मीर के विधानसभा का कार्यकाल 6 वर्ष का होता है बाकी भारत के सभी राज्यों का कार्यकाल 5 वर्ष होता है।

6- भारत के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश जम्मू कश्मीर के अन्दर मान्य नहीं होतें हैं।

7- जम्मू कश्मीर में लागू धारा 370 के तहत कश्मीर में RTI लागू नहीं होती है।

8- जम्मू कश्मीर में पंचायत के अधिकार मान्य नहीं होतें हैं।

9- जम्मू कश्मीर में लागू धारा 370 के तहत बाहर के लोग वहां की जमीन नहीं खरीद सकते हैं।

10- जम्मू कश्मीर में महिलाओँ पर शरीयत कानून लागू होते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जानिए आईपीएस अमिताभ यश के बारे में, जिनसे अपराधी खौफ खाते थे

यूपी पुलिस हमेशा से प्रदेशवासियों के निशाने पर