IPS विनोद मिश्र की कहानी, जिसके कारण गरीबों का भर रहा है पेट

IPS विनोद मिश्र की कहानी, जिसके कारण गरीबों का भर रहा है पेट

2

कहते हैं हर एक इंसान में दो-चार इंसान होते हैं यह कहावत हकीकत में तब्दील कर रहे हैं IPS विनोद मिश्रा जी। IPS विनोद मिश्रा जितना अपनी निजी जिंदगी में सरल स्वभाव के हैं उतना ही पुलिस विभाग में। विनोद की हमेशा जिद रहती है कि उनके पुलिस विभाग में प्रतिदिन जो खाना बच गरीबों और असहायों तक पंहुचाया जा सके। यही नहीं विनोद की हमेशा कोशिश रहती है कि उनके आस-पास के लोग कभी भूखे न सोएं…… The Police News की खास पेशकश हम आपको इस अधिकारी की जिंदगी के हर एक कड़ी से रबरू करवाएँगे।

विनोद मिश्रा का जन्म 22 मई 1964 को यूपी के जौनपुर जिले में हुआ। विनोद का हमेशा से मन पुलिस विभाग की खिंचाव रहता था। विनोद वर्तमान में बनारस पीएससी में तैनात हैं। इसके पहले विनोद मथुरा में बतौर एसएसपी पद भी थे और इसके अलावां उनकी कई जिलों में पोस्टिंग रह चुकी है… आईपीएस विनोद कुमार मिश्रा जहां भी तैनात रहे वहां उनकी कोशिश रहती थी की सभी थानों और चौकी में बचे हुए अन्न को गरीबो और असहाय लोगो तक पंहुचाया जाए जिसके लिए उन्हे मथुरा में रोटी बैंक संस्था की ओर से भी काफी मदद भी मिली उसके बाद विनोद की तैनाती बनारस पीएससी में हुई तो उन्होंने यहां भी ये काम शुरू किया जिसको लेकर वह बाकयदा सोशल मीडिया पर अभियान चला रहे हैं और पुलिस विभाग के और अधिकारियों को भी प्रेरित कर रहे हैं।

यूनाइटेड नेशन की एक रिपोर्ट, भारत में 20 करोड़ लोग रोज भूखे सोते हैं
यूनाइटेड नेशन की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में करीब 20 करोड़ लोग हर रोज भूखे सोते हैं। ये आंकड़ा जितना ही बड़ा है, उतना ही एक सभ्य समाज के लिए शर्मनाक है। देश के आजादी के 70 साल बाद भी लोग भुखमरी के कगार पर खड़े हैं। आपके आस-पास, पास-पड़ोस में तमाम ऐसे लोग हैं ,जो एक वक्त का खाना खाकर ही अपनी जिंदगी का गुजारा करते हैं। देश में अन्न की बर्बादी का प्रतिशत भी बहुत अधिक है। देश में हर साल 50 हजार करोड़ रुपये का अन्न बर्बाद होता है।

विनोद मिश्रा की मुहिम ला रही है रंग
ऐसी ही जागरूकता उत्तर प्रदेश पुलिस सेवा में तैनात एक पुलिस अधिकारी की ओर से दिखाई गई है। 36वीं वाहिनी पीएससी, भुल्लनपुर, वाराणसी में कमांडेंट के रूप में तैनात आईपीएस विनोद कुमार मिश्रा की जागरूकता और संवेदनशीलता से बनारस में रोजाना 50 से 60 भूखे लोगों को भोजन मिल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कॉन्स्टेबल पापा और IPS बेटे की कहानी, जब पिता ने बेटे को किया सैल्यूट

लखनऊ- लखनऊ के विभूति खंड थाने में तैनात