प्लेसमेंट एजेंसी की आड़ में चल रहे मानव तस्करी का भंडा फोड़, दो महिलाएं गिरफ्तार

प्लेसमेंट एजेंसी की आड़ में चल रहे मानव तस्करी का भंडा फोड़, दो महिलाएं गिरफ्तार

32

प्लेसमेंट एजेंसी

The Police News

दिल्ली। इन दिनों कानून व्यवस्था को सुधारते हुए अपराधों की रोकथाम के लिए प्रयास किए जा रहे है। मानव तस्करी जैसे अपराध इन दिनों बहुत बढ़ रहा है जिसकी रोकथाम के लिए पुलिस के प्रयास सराहना के योग्य है। हाल में ह पुलिस ने मानव तस्कर के एक गिरोह को पकड़ा है। पकड़े गए मानव तस्करी में रांची के लापुंग के पुरनापाली की सुशांति केरकेट्टा, लापुंग के लालगंज की रेखा देवी और खूंटी जिले के मनाहातू का दिलीप सिंह शामिल है। पुलिस को इनके पास से पांच मोबाइल बरामद हुए है। ये तीनों दिल्ली में प्लेसमेंट एजेंसी खोल कर कर झारखंड से मानव तस्करी का घिनौना खेल खेल रहे थे।

 चला रहे थे प्लेसमेंट एजेंसी के आड़ में यह घिनौना काम

  • दिल्ली में प्लेसमेंट एजेंसी के आड़ में चल रहे मानव तस्करों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।
  • पकड़े गए मानव तस्करी में रांची के लापुंग के पुरनापाली की सुशांति केरकेट्टा, लापुंग के लालगंज की रेखा देवी और खूंटी जिले के मनाहातू का दिलीप सिंह शामिल है।
  • पुलिस ने इनके पास से दिल्ली में स्थित प्रियंका ओमजी रिप्लेसमेंट का दस्तावेज बरामद किया है।
  • लोहरदगा के एसपी एस कार्तिक ने बताया कि झारखंड के नाबालिग लोगों को बालिग दिखाकर दिल्ली में अच्छी  जॉब दिलाने का झांसा देते हैं और उन्हें वहां बेच डालते हैं।

प्लेसमेंट एजेंसी

  • सेन्हा थाना क्षेत्र से पिछले चार अगस्त को चार नाबालिग लापता हो गए थे।
  • इस मामले में पुलिस ने मानव तस्करी के मामले में कार्रवाई करते हुए तीन मानव तस्करों को गिरफ्तार किया है।
  • इसके अलावा तीन नाबालिग भी बरामद कर लिए गए हैं, जबकि एक नाबालिग ने पिछले दिनों दिल्ली में आत्महत्या कर ली थी।
  • झारखंड राज्य में मानव तस्कर गिरोह फिर से सक्रिय हो गया है।
  • वे नौकरी का जाल में फांस कर उन्हें पहले कार या बस में बिठाकर पश्चिम बंगाल जा रहे हैं और वहां ट्रेन के माध्यम से दिल्ली, गुड़गांव ले जाते हैं। फिर उन्हें काम के नाम पर बेच दिया जाता है।

Also Read :-सचिन की “पुलिस छवि सुधार एक मुहिम” बटोर रही है सुर्खिया, 4.8 मिली चुकी है रेटिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

रुवेदा सलाम के जोश और जज़्बे की कहानी, कश्मीर की है पहली IPS

The Police News देश की बागडोर असल मायने